यादें

आज भी तेरी याद में निकल आते हैं आंशू
वजह सिर्फ तेरी यादें नहीं,
मेरी कुछ गलतियाँ भी हैं ।

Comments

Post a Comment

Popular posts from this blog

जिसे दुनियाँ माँ कहती है।

सुनो तुम्‍हारी याद आ रही है।

एक अधूरी सी मुलाक़ात