Skip to main content

सुनो तुम्‍हारी याद आ रही है।

सुनो तुम्हारी याद आ रही है
याद के साथ तुम भी आजाओ ना

दिल ये मेरा अब मेरी सुनता नहीं है
हर वक्त तुमसे मिलने को कहता है
इस पागल दिल को तुम ही समझाओ ना
सुनो तुम्हारी याद आ रही है
याद के साथ तुम भी आजाओ ना

जब से तुमसे मिला हू
खुद से तुम्हारी बातें करता हूं
ये प्यार है या पागलपन, इस गलत फैमी को
तुम्ही आके मिटाओ ना
सुनो तुम्हारी याद आ रही है
याद के साथ तुम भी आजाओ ना

तुम बहुत प्यारी हो
और मैं कुछ नासमझ सा हू
अपनी समझदारी के गुण मुझको भी सिखलाओ ना
सुनो तुम्हारी याद आ रही है
याद के साथ तुम भी आजाओ ना

सब pk कह कर बुलाते हैं मुझे
तुम कभी पीछे से 'पुनीत' कह कर बुलाओ ना
सुनो तुम्हारी याद आ रही है
याद के साथ तुम भी आजाओ ना







Comments

  1. Mind blowing

    Great lines
    Beautiful ❤️
    This is past that never comes again in our life that's why we remember past

    Like yaad aa rahi hai

    ReplyDelete
  2. Koi wapas aane k liye nahi jataa h ,
    Aur jo jata h wo wapas nahi aataa h.😶

    ReplyDelete
  3. Koi wapas aane k liye nahi jataa h ,
    Aur jo jata h wo wapas nahi aataa h.😶

    ReplyDelete
  4. Koi wapas aane k liye nahi jataa h ,
    Aur jo jata h wo wapas nahi aataa h.😶

    ReplyDelete
  5. Koi wapas aane k liye nahi jataa h ,
    Aur jo jata h wo wapas nahi aataa h.😶

    ReplyDelete
  6. Koi wapas aane k liye nahi jataa h ,
    Aur jo jata h wo wapas nahi aataa h.😶

    ReplyDelete
    Replies
    1. Mene apni feeling share ki hai in word ke through
      Baki jo jata hai wo sach me wapas nhi ata

      Delete
    2. Uske aane ki bhi wjh hogi aur jane ki bhi 😊

      Delete
  7. Wese kuch bhi ho mehboob ke sath pal bade khubsurat ho jate hai

    ReplyDelete
    Replies
    1. Aur mehboob k jane k baad bhi😊

      Delete
    2. Wese mere pas uski yade itni h
      Ki puri life yado me hi nikl jaye

      Delete
  8. Haa bhai apki yaad
    Arhi h 💞💞👌

    ReplyDelete

Post a Comment

Popular posts from this blog

बड़ी मासूम सी थी वो, जब स्कूल जाया करती थी।

बड़ी मासूम सी थी वो, जब  स्कूल जाया करती थी

जब मैं देखता था उसको, वो मुस्कुराया करती थी

बात नहीं होती थी मेरी, फिर भी आँखों ही आँखों में सब बताया करती थी

बड़ी मासूम सी थी वो, जब स्कूल जाया करती थी।





धीरे-धीरे चलती थी वो, जब मैं देख लेता था

जाना चाहता था पास उसके, फिर भी खुद को रोक लेता था

धड़कन ठहर जाती थी मेरी, जब वो अक्सर मेरे खांसने पर पलट जाया करती थी

बड़ी मासूम सी थी वो, जब स्कूल जाया करती थी।





सोचता था मैं, जब बात उससे होगी

क्या बोलूंगा उससे, क्या वो मुझे समझेगी

बहुत पास थी वो मेरे दिल के, मेरी धड़कन बताया करती थी

बड़ी मासूम सी थी वो, जब स्कूल जाया करती थी।



क्या तेरा टाइम आएगा

क्या तेरा टाइम आएगा

उदास रहता है हर पल

तू क्या किसी को समझाएगा

सोचता रहता है तू

क्या तेरा टाइम आएगा।



खुशी से तेरा कोई नाता नहीं

दिल तोड़ना तुझे आता नहीं

तू कब खुद की सुन पाएगा

सोचता रहता है तू

क्या तेरा टाइम आएगा।



सपने तेरे बड़े हैं बहुत

तेरे जैसे लोग भी हैं बहुत

इन सपनों का तू कुछ कर पाएगा

सोचता रहता है तू

क्या तेरा टाइम आएगा।


मोहब्बत मिली तो, खुशियाँ भी मिली थीं

छूट गई राह में वो भी कहीं

क्या उसके जाने की वजह भी जान पाएगा

सोचता रहता है तू

क्या तेरा टाइम आएगा।।